Photo Online Chori Hone Se Kaise Bachaayein?

Ek dafa agar aapne koi tasviir internet par Daal di, aur koi jaanbujh kar churaana chaahe to aap ise nahi rok sakte. Watermark bhi miTaaya ja sakta hai. Tasviir crop ki ja sakti hai. Zyaada se zyaada aap ye kar sakte hain ki aap (digimarc service) Digimarc Guardian for Images subscribe kar lein. Lekin kya aapke paas utna paisa, waqt aur resources hai? Aur agar aapne ye servise subscribe kar bhi liya to aapko sirf itna pata chalega ki aapki photo kisne churaai hai. Agar aap us shakhs tak pahunch bhi gaye (jisne aapki photo churaai hai), to phir kya? Uske saath sau tarah ke jhanjhaT mol lene, use chor saabit karne aur apna haq vaapas pane tak aap intezaar kar sakenge?

Internet memes are extremely popular. Are they stolen? Do they infringe copyright? Or is it ok?

Internet memes are extremely popular. Are they stolen? Do they infringe copyright? Or is it ok?

Internet par photos kaun churaata hai?

Mere khayaal se 2 tarah ke log photographs ki chori karte hain.  

Aise log jinka intension galat nahi hota: Kuchh log aise hote hain, jo achchhi tasviiron ko dekhte hi use share karna chaahte hain. Wo, un tasviiron ke saath ek tarah ka emotional attachment mahsoos karte hain, siliye share karte hain. Mere home town ‘Lucknow’ ki kai aisi tasviirein jo maine khinchi hain, wo is tarah se share ki gai hain. Mujhe lagta hai, unhone kabhi dekha nahi hoga ji lucknow ais abhi dikhta hai. Lekin kai khoobsurat tasviirein maujood hain, jo ki behad aakarshak bhi hain.

Lucknow

Doosri wajah ye bhi ho sakti hai ki unhein ye discover karne mein maza aata ho. Kyonki jab aisi tasviirein post ki jaati hain to saath mein ye bhi likha hota hai, ‘aisi tasviir kisi ne dekhi hai kya?’

GorkyM_Drashti_dhami

Aap jo tasviir oopar dekh rahe hain, wo sabse zyaada dafe chori ki gai tasviir hai. Ye ek mash-hoor TV actress ki tasviir hai. Maine sabse pahle ise apne facebook page par share kiya tha. Phir na jaane kahan-kahan, kin-kin websites par ise share kiya gaya. Mujhe pahle to gussa aaya. Phir maine socha ki ho sakta hai log ye tasviir sirf isiliye share kar rahe hain, kyonki unhein pasand aai ho. Kisi galat maqsad se wo aisa nahi kar rahe hain. Kyonki Tv par is actress ko log aaye din dekhte rahte hain, So usi ki ek khoobsurat tasviir dekhte hi khud ko share karne se nahi rok paaye honge. Maine kuchh bade groups aur fan page par ye likha, ‘Agar tasviir ke saath credit bhi dein to achchha rahega.’ Aap ye jaankar hairaan ho jayenge ki kai logon ne is tasviir ko dobaara credit ke saath yaani mere naam ke saath share kiya. Mujhe bahut achchha laga.

Aise log jo jaanbujh kar chori karte hain: Kuchh log aise bhi hote hain, jo bina mehnat ke popular hona chaahte hain. Wo jaante hain ki aisi tasviir khinchna unke bas ki baat nahi hain. Kai websites aisi hain, jahan dhadalle se aise kaam ko anjaam diya jaata hai. Kahin se bhi achchhi tasviirein chura kar wo apne credit ke saath post karte hain. Kai photographs ka istemaal to international news jaisi commercial website par bhi kiya gaya hai. Hairaani to is baat ki hai ki bahut se logon ne to doosron ki photo ko apna bataa kar photography contest bhi jeeta hai.

Kai dafa aapke saath bhi aisa ho sakta hai. Mumkin hai aapko photo chori karne waale par gussa bhi aaye. Lekin koi faayda nahi hai. Apne aap ko cool rakhein. Kai dafe aisa bhi hoga ki bahut mehnat ke baad aake haath kuchh nahi aayega. Kabhi result ulTa bhi ho sakta hai. Is maamle mein aapko ‘Fair use’ ki jaankaari honi chaahiye. Wikipedia ke anusaar,

Fair use is a limitation and exception to the exclusive right granted by copyright law to the author of a creative work. In United States copyright law, fair use is a doctrine that permits limited use of copyrighted material without acquiring permission from the rights holders. Examples of fair use include commentary, search engines, criticism, parody, news reporting, research, teaching, library archiving and scholarship. It provides for the legal, unlicensed citation or incorporation of copyrighted material in another author’s work under a four-factor balancing test

Poora article padhne ke liye yahaan click karein.

Alag-alag tarah ki chori

Social networking site se chori:

Sabse zyaada content jahan se chori hote hain, wo hai social networking site. Aur maze ki baat ye hai ki dobaara kisi na kisi social networking site par hi post kiye jaate hain. Digitial Millenium Copyright Act ke anusaar ye illegal hai. Haalaanki networking site par ye option hota hai ki aap chori ki gai image ‘report’ kar sakte hain. Lekin is se kuchh hota nahi hai. Mera khayaal hai ki ye bhi ek tarah se business ka hissa hai, taaki aap kuchh aur seconds ke liye us site par waqt bitaayein. Aur yahi wajah hai ki ‘report’ karne ki process mushkil hoti hai.

  • Twitter par report option yahaan
  • Facebook par report ka option yahaan hai.
  • Instagram par report ka option yahaan

Mera ek anubhav ye bhi raha hai ki ‘report’ karane par facebook aur twitter ka response zara jaldi aata hai. Wo jaldi action lete hain aur zyaadaatar maamlon mein insaaf bhi karte hain. Pichhle 6 barson mein maine kul 5 complains karaayein aur har dafe mujhe kaamyaabi mili.

Website se chori:

Website ka maamla zara pechida hai. Kyonki har website apni tarah ka hota hai aur poori duniya mein kahi bhi host kiya ja sakta hai. aise mein apne photograph ko haTvaana ya credit dilwaana zara mushkil ho jaata hai. kai paid website hote hain, jo apne har kaa ke liye paisa dete hain. Lekin maine kabhi aisa nahi kiya. Khair, main aapko bataata hoon ki agar aapki photo kisi website par dikh jaaye, to kya karna chaahiye?

  1. Website ke ‘contact’ waale page par jaayein aur us website ke maalik/webmaster ke bare mein pata lagaayein.
  2. Agar aap dhundh lete hain, to WHOIS service ka istemaal karte hue pata lagaayein ki ye domain kiske naam se registered hai.
  3. Diye gaye pata par e-mail likhein ki website par istemaal ki ja rahi tasviir aapki hai, aur wo chori ki gai hai. Us e-mail mein ye bhi likhein ki is tasviir ka asli haqdaar kaun hai? aapne kisi ko becha hua hai ya pahle kahi istemaal kiya hua hai.
  4. E-mail likhte hue aapko ye bhi likhna chaahiye ki photo ke saath credit diya jaaye. Ya photo ko website se haTa diya jaaye. Ya phir, original photo ka link diya jaaye. Jo bhi aapko thik lage.
  5. Bas itna dhyaan rakhein ki apni baat kahte hua aap gussa na ho jaayein. Aapki bhaaSha gandi na ho jaaye.
  6. Main dohraana chaahta hoon ki bahut se logon ko pata bhi nahi hota ki wo photo chori kar rahe hain. Isiliye unhein ek mauqa zaroor dein taaki wo apni baat rakh sakein. Aap unhein photo haTaane, credit dene yaa original link share karne ko bhi kah sakte hain.
  7. E-mail likhte hue domain hosting provider ko mark karna na bhoolein.
  8. In sab ke baawajood agar koi positive response nahi milta hai, to aap GoogleYahoo और Bling jaise serch engine ko DCMA takedown notice bhej sakte hain. Taaki wo search engine se un websites ko delink kar dein, haTa dein. Zyaada jaankaari ke liye yahaan click karein.  

Mera Personal approach:

  1. Apne photograph ko aise watermark karein ki photo ki beauty bani rahe. Is se ek faayeda ye hoga ki kuchh log us photo ke maadhyam se aapke baaqi kaam ko bhi dekhna chaahenge.
  2. Zyaadaatar log churaana nahi chaahte. Wo share karna chaahte hain. Behatar hoga ki aap share karne ka option khula rakhein taaki log aapke baaqi kaam ko bhi dekh sakein.
  3. Kuchh dinon/mahinon par ek aisi tasviir (high resolution waali) zaroor post karein, jiska istemaal log wall paper ke taur par kar sakein. Saath mein ye bhi likhein, ‘agar koi chaahe to iska personal/non-commercial istemaal kar sakta hai. Lekin credit dena na bhoole.’
  4. Tay karein ki jo log aapki photo istemaal karna chaahte hain, unka aap tak pahunchna aasaan ho. Is ke liye aap personal website bana kar ‘About Me’ ka page bana sakte hain.
  5. Udaar banein. Mere saath kai dafe aisa hua ki students ne apne personal project ke liye mere photographs maange. Maine de diye. Aur jab unka project kaamyaab hua to social media par unhone mera naam mention kiya. Is tarah se kai naye log mere sampark mein aaye, dost bane.
  6. Trey Ratcliffe kahte hain- “photo/art share karne ke liye hoti hai, rakhne ke liye nahi.” Lekin kin sharton par? Ye jaan ne ke liye Licensing | Stuck in Customs par click karein.
  7. Jo log aapki tasviirein pasand karte hain, unki community bhi aap create kar sakte hain. Saath mein, ye bhi dekhein ki aapko us community se kitni positive energy milti hai, exposure milta hai.
  8. Sirf unhin logn se sampark karein, jis par aapko sandeh ho ki isne meri photo jaanbujh kar churaai hai aur apne faayde ke liye tasviiron ka commercial istemaal kar raha hai.

Kahne ka matlab ye ki aap internet users ko ye sikhaayein bhi ki photo share karne photo credit bhi dena chaahiye. Photo download kar ke re-post karne se behtar hai ki share karein. Alag-alag site ya app par ‘report’ option ka istemaal karein.

Ek dafa yoon hua ki maine ek coffee cup ki tasviir khinchi. Us tasviir ko mere kisi dost ne share ki. Phir uske kisi dost ne…aur is tarah wo photo ek aise aadmi tak pahunchi, jo kisi bade online publication ke liye coffee par article likh raha tha. Usne mujh se sampark kiya aur permission maangi. Ye sochkar ki mujhe exposure milega, maine kam price par mein wo photo bech di. Usne meri photo ko article ki ‘cover image’ banaai. Ek subah meri nazar jab us photo par gai, to main muskuraane laga. Us photo ki yaatra bhi ghazab rahi.  

#coffee #love #kiss #cinderellamax #lovestory #romance

A post shared by Gorky M (@gorky) on

Conclusion:

Maine dekha hai ki professional ki bajaay aamlog apni tasviiron ki chori se zyaada darte hain. Har tarah ke anubhavon ke baad mujhe ye samajh aaya ki photo chori karne waalon ke pichhe time kharaab karne se koi faayeda nahi hai. Phir kya karein?

  1. Is baat se chidhna chhod dein ki log aapki photo churaate hain.
  2. Photo watermark ka istemaal karein. Apna naam aur website ka naam likhein.
  3. Agar aap chaahte hain ki photo chori na ho to 500px ki image upload karein.
  4. Koi aisi photo jise aap kisi bhi soorat mein khona nahi chaahte, to behtar hai ki upload hi na karein.
  5. Kabhi-kabhi Tiny Eye ya Google Image Search ka istemaal karte hue pata karein ki aapki tasviir kahan-kahan share ki gai hai.
  6. Aapke dimaagh mein clear hona chaahiye ki apni photo share karne ka maqsad kya hai.
  7. Zyaadaatar waqt skill aur craft develop karne mein kharch karein.
  8. Apna unique style banaayein aur logon ko bataayein. Taaki photo dekhte hi log kah dein ki ye kaam aapka nahi hai. Trey Ratcliffe aur Joel Grimes iske perfect udaaharan hain.
  9. Apne ko is qaabil banaayein ki log aapki photo share karte hue khushi mahsoos karein.
  10. Dua karein ki koi aisa aadmi aapki photo chori kare, jise us photo ke badle laakhon rupye dene pad jaayein. J Waise is maamle mein meri qismat kuchh thik nahi hai. Lekin meri koshish jaari hai.

Noam Galai ka “stolen scream” iska sabse behtar udaaharan hai. Ye ek dilchasp kahaani aur case study bhi hai. Agar aap jaan na chaahte hain ki unki ek photo kaise chori hui aur phir kya hua? To yahan click karein. …aap ye bhi bataayein ki is topic par aap kya sochte hain? Agar koi aapki photo share kar leta hai to aap kya karenge?  

Subscribe-to-our-YT-channle

Ye article kaisa laga? Zaroor bataayein. Agar pasand aaya ho, to apne doston ke saath share bhi karein. Photography se juda hua koi sawaal puchhne ke liye niche comment box mein likhein.

फोटो ऑनलाइन चोरी होने से कैसे बचाएँ?

क दफ़ा अगर आपने कोई तस्वीर इंटरनेट पर डाल दी, और कोई जानबूझ कर चुराना चाहे तो आप उसे नहीं रोक सकते। वाटरमार्क भी मिटाया जा सकता है। तस्वीर क्रॉप की जा सकती है। ज़्यादा से ज़्यादा आप ये कर सकते हैं कि आप डिजीमार्क सर्विस सब्सक्राइव कर लें। लेकिन क्या आपके पास उतना पैसा, वक़्त और रिसोर्स है? और अगर आपने ये सर्विस सब्सक्राइब कर भी लिया तो आपको सिर्फ़ इतना पता चलेगा कि आपकी फोटो किसने चुराई है। अगर आप उस शख़्स तक पहुंच भी गए (जिसने आपकी फोटो चुराई है), तो फिर क्या? उसके साथ सौ तरह के झंझट मोल लेने, उसे चोर साबित करने और अपना हक़ वापस पाने तक आप इंतज़ार कर सकेंगे?

Internet memes are extremely popular. Are they stolen? Do they infringe copyright? Or is it ok?

Internet memes are extremely popular. Are they stolen? Do they infringe copyright? Or is it ok?

इंटरनेट पर तस्वीरें कौन चुराता है?

मेरे ख़याल से दो तरह के लोग फोटोग्राफ की चोरी करते हैं।

ऐसे लोग जिनका इनटेंशन ग़लत नहीं होता: कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो अच्छी तस्वीरों को देखते ही उसे शेयर करना चाहते हैं। वो, उन तस्वीरों के साथ एक तरह का इमोशनल अटैचमेंट महसूस करते हैं, इसीलिए शेयर करते हैं। मेरे होम टाऊन ‘लखनऊ’ की कई ऐसी तस्वीरें जो मैंने खींची हैं, वो इस तरह से शेयर की गई हैं। मुझे लगता है, उन्होंने कभी देखा नहीं होगा कि लखनऊ ऐसा भी दिखता है। लेकिन कई ख़ूबसूरत तस्वीरें मौजूद हैं, जो कि बेहद आकर्षक भी हैं।

Lucknow

दूसरी वजह ये भी हो सकती है कि उन्हें ये डिस्कवर करने में मज़ा आता हो। क्योंकि जब ऐसी तस्वीरें पोस्ट की जाती हैं तो साथ में ये भी लिखा होता है, ‘ऐसी तस्वीर किसी ने देखी है क्या?’

GorkyM_Drashti_dhami

आप जो तस्वीर ऊपर देख रहे हैं, वो सबसे ज़्यादा दफ़े चोरी की गई तस्वीर है। ये एक मशहूर टीवी ऐक्ट्रेस की तस्वीर है। मैंने सबसे पहले इसे अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया था। फिर न जाने कहाँ-कहाँ, किन-किन वेबसाइट्स पर इसे शेयर किया गया। मुझे पहले तो ग़ुस्सा आया। फिर मैंने सोचा कि हो सकता है लोग ये तस्वीर सिर्फ़ इसलिए शेयर कर रहे हैं, क्योंकि उन्हें पसंद आई हो। किसी ग़लत मक़सद से वो ऐसा नहीं कर रहे हैं। क्योंकि टीवी पर इस ऐक्ट्रेस को लोग आए दिन देखते रहते हैं, सो उसी की एक ख़ूबसूरत तस्वीर देखते ही ख़ुद को शेयर करने से नहीं रोक पाए होंगे। मैंने कुछ बड़े ग्रुप्स और फ़ैन पेज पर ये लिखा, ‘अगर तस्वीर के साथ क्रेडिट भी दें तो अच्छा रहेगा।’ आप ये जानकर हैरान हो जाएँगे कि कई लोगों ने इस तस्वीर को दोबारा क्रेडिट के साथ यानी मेरे नाम के साथ शेयर किया। मुझे बहुत अच्छा लगा।

ऐसे लोग जो जानबूझ कर चोरी करते हैं: कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो बिना मेहनत के पॉपुलर होना चाहते हैं। वो जानते हैं कि ऐसी तस्वीर खींचना उनके बस की बात नहीं है। कई वेबसाइट्स ऐसी हैं, जहाँ धड़ल्ले से ऐसे काम को अंजाम दिया जाता है। कहीं से भी अच्छी तस्वीरें चुरा कर वो अपने क्रेडिट के साथ पोस्ट करते हैं। कई फोटोग्राफ्स का इस्तेमाल तो international news जैसी कॉमर्शियल वेबसाइट पर भी किया गया है। हैरानी तो इस बात की है कि बहुत से लोगों ने तो दूसरों की फोटो को अपना बता कर फोटोग्राफी कॉन्टेस्ट भी जीता है।

कई दफ़ा आपके साथ भी ऐसा हो सकता है। मुमकिन है आपको फोटो चोरी करने वाले पर ग़ुस्सा भी आए। लेकिन कोई फ़ायदा नहीं है। अपने आप को कूल रखें। कई दफ़े ऐसा भी होगा कि बहुत मेहनत के बाद आपके हाथ कुछ नहीं आएगा। कभी रीज़ल्ट उल्टा भी हो सकता है। इस मामले में आपको ‘फ़ेयर यूज़’ की जानकारी ज़रूरी होनी चाहिए। वीकिपीडिया के अनुसार,

Fair use is a limitation and exception to the exclusive right granted by copyright law to the author of a creative work. In United States copyright law, fair use is a doctrine that permits limited use of copyrighted material without acquiring permission from the rights holders. Examples of fair use include commentary, search engines, criticism, parody, news reporting, research, teaching, library archiving and scholarship. It provides for the legal, unlicensed citation or incorporation of copyrighted material in another author’s work under a four-factor balancing test

पूरा आर्टिकल पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें। 

अलग-अलग तरह की चोरी

सोसल नेटवर्किंग साइट से चोरी:

सबसे ज़्यादा कॉन्टेंट जहाँ से चोरी होते हैं, वो है सोशल नेटवर्किंग साइट। और मज़े की बात ये है कि दोबारा किसी न किसी सोशल नेटवर्किंग साइट पर ही पोस्ट किए जाते हैं। डिज़िटल मिलेनिअम कॉपीराइट ऐक्ट के अनुसार ये अवैध है, इलिगल है। हालांकि नेटवर्किंग साइट पर ये ऑप्शन होता है कि  आप चोरी की गई इमेज़ ‘रिपोर्ट’ कर सकते हैं। लेकिन इससे कुछ होता नहीं है। मेरा ख़याल है कि ये भी एक तरह से बिजनेस का हिस्सा है, ताकि आप कुछ और सेकेंड्स के लिए उस साइट पर वक़्त बिताएँ। और यही वजह है कि ‘रिपोर्ट’ करने की प्रॉसेस मुश्किल होती है।

  • ट्विटर पर रिपोर्ट का ऑप्शन यहाँ है।
  • फ़ेसबुक पर रिपोर्ट का ऑप्शन यहाँ है।
  • इंस्टाग्राम पर रिपोर्ट का ऑप्शन यहाँ है।

मेरा एक अनुभव ये भी रहा है कि ‘रिपोर्ट’ करने पर फ़ेसबुक और ट्विटर का रिस्पॉन्स ज़रा जल्दी आता है। वो जल्दी ऐक्शन लेते हैं और ज़्यादातर मामलों में इंसाफ़ भी करते हैं। पिछले छह बरसों में मैंने कुल पाँच शिकायतें फ़ेसबुक पर दर्ज़ कराईं  और हर दफ़े मुझे कामयाबी मिली।

वेबसाइट से चोरी:

वेबसाइट का मामला ज़रा पेचीदा है। क्योंकि हर वेबसाइट अपनी तरह का होता है और पूरी दुनिया में कहीं से भी होस्ट किया जा सकता है। ऐसे में अपने फोटोग्राफ को हटवाना या क्रेडिट दिलवाना ज़रा मुश्किल हो जाता है। कई पेड वेबसाइट होते हैं, जो अपने हर काम के लिए पैसा देते हैं। लेकिन मैंने कभी ऐसा नहीं किया। ख़ैर, मैं आपको बताता हूँ कि अगर आपकी फोटो किसी वेबसाइट पर दिख जाए, तो क्या करना चाहिए?

  1. वेबसाइट के ‘सम्पर्क’ वाले पेज पर जाएँ और उस वेबसाइट के मालिक/वेबमास्टर के बारे में पता लगाएँ।
  2. अगर आप ढूँढ़ लेते हैं, तो WHOIS सर्विस का इस्तेमाल करते हुए पता लगाएँ कि ये डोमेन किसके नाम से रजिस्टर्ड है।
  3. दिए गए पता पर ई-मेल लिखें कि वेबसाइट पर इस्तेमाल की जा रही तस्वीर आपकी है, और वो चोरी की गई है। उस ई-मेल में ये भी लिखें कि इस तस्वीर का असली हक़दार कौन है? आपने किसी को बेचा हुआ है या पहले कहीं इस्तेमाल किया है।
  4. ई-मेल लिखते हुए आपको ये भी लिखना चाहिए कि फोटो के साथ क्रेडिट दिया जाए। या फोटो को वेबसाइट से हटा दिया जाए। या फिर, ओरिज़िनल फोटो का लिंक दिया जाए। जो भी आपको ठीक लगे।
  5. बस इतना ध्यान रखें कि अपनी बात कहते हुए आप ग़ुस्सा न हो जाएँ। आपकी भाषा गंदी न हो जाए।
  6. मैं दोहराना चाहता हूँ कि बहुत से लोगों को पता भी नहीं होता कि वो फोटो चोरी कर रहे हैं। इसीलिए उन्हें एक मौक़ा ज़रूर दें ताकि वो अपनी बात रख सकें। आप उन्हें फोटो हटाने, क्रेडिट देने या ओरिज़िनल लिंक शेयर करने को कह सकते हैं।
  7. ई-मेल लिखते हुए डोमेन होस्टिंग प्रोवाइडर को मार्क करना न भूलें।
  8. इन सबके बावजूद अगर कोई पॉज़िटिव रिस्पॉन्स नहीं मिलता है, तो आप गूगलयाहू और बिंग जैसे सर्च इंजन को डीसीएमए टेकडाउन नोटिस भेज सकते हैं। ताकि वो सर्च इंजन से उन वेबसाइट्स को डीलिंक कर दें, हटा दें। ज़्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

मेरा निज़ी अप्रोच:

  1. अपने फोटोग्राफ को ऐसे वाटरमार्क करें कि फोटो की ख़ूबसूरती बनी रहे। इससे एक फ़ायदा ये होगा कि कुछ लोग उस फोटो के माध्यम से आपके बाक़ी काम को भी देखना चाहेंगे।
  2. ज़्यादातर लोग चुराना नहीं चाहते। वो महज़ शेयर करना चाहते हैं। बेहतर होगा कि आप शेयर करने का ऑप्शन खुला रखें ताकि लोग आपके बाक़ी काम को भी देख सकें।
  3. कुछ दिनों/महीनों पर एक ऐसी तस्वीर (हाई रेज़ुलेशन वाली) ज़रूर पोस्ट करें, जिसका इस्तेमाल लोग वाल पेपर के तौर पर कर सकें। साथ में ये भी लिखें, ‘अगर कोई चाहे तो इसका पर्सनल/नॉन कॉमर्शियल इस्तेमाल कर सकता है। लेकिन क्रेडिट देना न भूले।’
  4. तय करें कि जो लोग आपकी फोटो इस्तेमाल करना चाहते हैं, उनका आप तक पहुंचना आसान हो। इसके लिए आप पर्सनल वेबसाइट बना कर ‘अबाउट मी’ का पेज क्रिएट कर सकते हैं.
  5. उदार बनें। मेरे साथ कई दफ़े ऐसा हुआ कि स्टूडेंट्स ने अपने पर्सनल प्रोजेक्ट के लिए मेरे फोटोग्राफ्स माँगे। मैंने दे दिए। और जब उनका प्रोजेक्ट कामयाब हुआ तो सोशल मीडिया पर उन्होंने मेरा नाम मेनशन किया। इस तरह से भी कई नए लोग मेरे सम्पर्क में आए, दोस्त बने।
  6. कहते हैं- “फोटो/आर्ट शेयर करने के लिए होती है, रखने के लिए नहीं।” लेकिन किन शर्तों पर? ये जानने के लिए Licensing | Stuck in Customs पर क्लिक करें।
  7. जो लोग आपकी तस्वीरें पसंद करते हैं। उनकी एक कम्युनिटी भी आप क्रिएट कर सकते हैं। साथ में, ये भी देखें कि आपको उस कम्युनिटी से कितनी पॉज़िटिव एनर्जी मिलती है, एक्सपोज़र मिलता है।
  8. सिर्फ़ उन्हीं लोगों से सम्पर्क करें, जिस पर आपको संदेह हो कि इसने मेरी फोटो जानबूझ कर चुराई है और अपने फ़ायदे के लिए तस्वीरों का कॉमर्शियल इस्तेमाल भी कर रहा है।

कहने का मतलब ये कि आप इंटरनेट यूज़र्स को ये सिखाएँ भी कि फोटो शेयर करने के साथ फोटो क्रेडिट भी देना चाहिए। फोटो डाउनलोड कर के री-पोस्ट करने से बेहतर है कि शेयर करें। अलग अलग साइट या एप्प पर ‘रिपोर्ट’ ऑप्शन का इस्तेमाल करें। 

एक दफ़ा यूँ हुआ कि मैंने एक कॉफ़ी कप की तस्वीर खींची। उस तस्वीर को मेरे किसी दोस्त ने शेयर की। फिर उसके किसी दोस्त ने…और इस तरह वो फोटो एक ऐसे आदमी तक पहुंची, जो किसी बड़े ऑनलाइन पब्लिकेशन के लिए कॉफ़ी पर आर्टिकल लिख रहा था। उसने मुझसे सम्पर्क किया और पर्मिशन माँगी। ये सोचकर कि मुझे एक्स्पोज़र मिलेगा, मैंने कम प्राइस में वो फोटो बेच दी। उसने मेरी फोटो को आर्टिकल की ‘कवर इमेज़’ बनाई। एक सुबह मेरी नज़र जब उस फोटो पर गई, तो मैं मुस्कुराने लगा। उस फोटो की यात्रा भी ग़ज़ब रही। 

#coffee #love #kiss #cinderellamax #lovestory #romance

A post shared by Gorky M (@gorky) on

निष्कर्ष:

मैंने देखा है कि प्रोफ़ेशनल फोटोग्राफर की बजाय आमलोग अपनी तस्वीरों की चोरी होने से ज़्यादा डरते हैं। हर तरह के अनुभवों के बाद मुझे ये समझ आया कि फोटो चोरी करने वालों के पीछे टाइम ख़राब करने से कोई फ़ायदा नही है। फिर क्या करें?  

  1. इस बात से चिढ़ना छोड़ दें कि लोग आपकी फोटो चुराते हैं।
  2. फोटो वाटरमार्क का इस्तेमाल करें। अपना नाम और वेबसाइट का नाम लिखें।
  3. अगर आप चाहते हैं कि फोटो चोरी न हो तो 500 px की इमेज़ अपलोड करें।
  4. कोई ऐसी फोटो जिसे आप किसी भी सूरत में खोना नहीं चाहते, तो बेहतर है कि अपलोड ही न करें।
  5. कभी-कभी Tiny Eye या Google Image Search का इस्तेमाल करते हुए पता करें कि आपकी तस्वीर कहाँ-कहाँ शेयर की गई है।
  6. आपके दिमाग़ में क्लियर होना चाहिए कि अपनी फोटो शेयर करने का मक़सद क्या है।
  7. ज़्यादातर वक़्त स्किल और क्राफ़्ट डेवलप करने में खर्च करें।
  8. अपना यूनीक़ स्टाइल बनाएँ और लोगों को बताएँ। ताकि फोटो देखते ही लोग कह दें कि ये आपका काम है। Trey Ratcliffe और Joel Grimes इसके पर्फ़ेक्ट उदाहरण हैं।
  9. अपने को इस क़ाबिल बनाएँ कि लोग आपकी फोटो शेयर करते हुए ख़ुशी महसूस करें।
  10. दुआ करें कि कोई ऐसा आदमी आपकी तस्वीर चोरी करे, जिसे उस तस्वीर के बदले लाखों रुपए आपको देने पड़ जाएँ। वैसे इस मामले में मेरी क़िस्मत कुछ ठीक नहीं है। लेकिन मेरी कोशिश जारी है।

नोएम गालई का “स्टोलेन स्क्रीम” इसका सबसे बेहतर उदाहरण है। ये एक दिलचस्प कहानी और केस स्टडी भी है। अगर आप जानना चाहते हैं कि उनकी एक फोटो कैसे चोरी हुई और फिर क्या हुआ? तो यहाँ क्लिक करें। …आप ये भी बताएँ कि इस टॉपिक पर आप क्या सोचते हैं? अगर कोई आपकी फोटो चोरी कर लेता है तो आप क्या करेंगे?

Subscribe-to-our-YT-channle

ये आर्टिकल कैसा लगा? ज़रूर बताएँ। अगर पसंद आया हो, तो अपने दोस्तों के साथ शेयर भी करें। फोटोग्राफी से जुड़ा हुआ कोई सवाल पूछने के लिए नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें।

TRIPURARI

TRIPURARI

TRIPURARI is a Poet, Lyricist & Scriptwriter. He is also the Editor of GMax Studios.
TRIPURARI

Meet the Author

TRIPURARI

TRIPURARI is a Poet, Lyricist & Scriptwriter. He is also the Editor of GMax Studios.